• ‘कहानियाँ बालमन की ’

    कुछ दिन पहले ही मुझे इन सुप्रसिद्ध साहित्यकार मनोहर चमोली की पुस्तक ‘कहानियाँ बालमन की ’पढ़ने का अवसर मिला। यह श्वेतवर्णा प्रकाशन से प्रकाशित हुई है। मूल्य 225 रुपए है। प्रत्येक कहानी में…

  • ‘कहानियाँ बाल मन की’

    धन्यवाद ख़ूब ! ‘कहानियाँ बाल मन की’ के प्रति लगातार स्नेह मिल रहा है। अभिभूत हूँ। श्वेतवर्णा प्रकाशन का भी धन्यवाद कि आए दिन एक-दो,एक-दो प्रतियों के ऑर्डर मिल रहे हैं तो भी…

  • कहानी नंबर 36 ‘मुस्कुराना हमेशा’

    कहानियाँ बाल मन की संग्रह से एक कहानी  “मनोहर चमोली मनु”  कहानी नंबर 36 ‘मुस्कुराना हमेशा’  आज के कहानी सत्र में बच्चों के संग यह कहानी साझा की। तितली की कहानियां तो बच्चों…

  • असल बात कह दी है दिव्या जी ने

    दिव्या झिंकवान बच्चों के बीच में काम करती हैं। पढ़ाना ही उनका काम है। वह अध्यापिका जो है। वे लिखती भी हैं। लिखने के लिए नहीं लिखतीं। समाज को बेहतर समाज की ओर…

  • बाल मन की कहानियाँ

    बीते दिनों कुछ दोस्तों और पाठकों ने ‘बाल मन की कहानियाँ’ पुस्तक पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। मुझे उन प्रतिक्रियाओं को यहाँ देने की ज़रूरत महसूस हो रही है। एक तो यह कि…

  • कहानियाँ बाल मन की

    उत्तर प्रदेश की नीरू जी शिक्षिका हैं। पश्चिम बंगाल में वे 16 सालों से हिंदी शिक्षिका हैं। कक्षा तीसरी से नौवी तक के बच्चों को पढ़ाती हैं। लघुकथा और बाल कथा पढ़ने और…

  • डाॅ॰जाकिर अली ‘रजनीश’

    वे प्रमुख ब्लागरों में एक हैं। इन दिनों यू-ट्यूबरों में तेजी से आगे बढ़ रहे हैं। अपना विकास तो कोई भी कर लेता है। आत्ममुग्धता का शिकार मैं भी हो सकता हूँ। लेकिन…

  • बाल मन की कहानियाँ

    ”पिछले दो दिन गंगोलीहाट प्रवास में बीते। इस दौरान प्रतिष्ठित बाल साहित्यकार मनोहर चमोली मनु की बहु चर्चित किताब ‘कहानियां बाल मन’ की साथ रही। छोटी बड़ी चालीस कहानियों के इस संग्रह की बहुत सारी…

error: Content is protected !!