• कहानी डायरी लेखन कुछ इस तरह हुआ

    कक्षा छह,सात,आठ,दस और ग्यारह के विद्यार्थियों में वय वर्ग की विविधता रचनात्मक कार्यो में कैसे उपयोगी हो? कैसे वे एक-साथ एक-दूसरे को सहयोग करें? कैसे भागीदारी में दायरा बढ़ाएं और अपने चिन्तन को…

  • किंडल में मेरा प्रकाशन

    किंडल का ज़्यादा अनुभव नहीं है । अलबत्ता दो छोटी-सी छिटपुट किताबें मैंने भी वहाँ प्रकाशित की हैं। साथी मित्र अरविंद कुमार साहू जी ने इसके बारे में बताया था। अब छिटपुट रायल्टी…

  • ‘कहानियाँ बालमन की ’

    कुछ दिन पहले ही मुझे इन सुप्रसिद्ध साहित्यकार मनोहर चमोली की पुस्तक ‘कहानियाँ बालमन की ’पढ़ने का अवसर मिला। यह श्वेतवर्णा प्रकाशन से प्रकाशित हुई है। मूल्य 225 रुपए है। प्रत्येक कहानी में…

  • उम्मीद,आशा और भरोसा लेकर ‘अब पहुँची हो तुम’

    -मनोहर चमोली ‘मनु’महेश चंद्र पुनेठा कृत कविता कविता संग्रह ‘अब पहुँची हो तुम’ उपलब्ध है। एक सौ सत्रह कविताएँ इस संग्रह में है। पृष्ठों की संख्या एक सौ चैबीस है। साल दो हजार…

  • लगन

    कोरोना के कारण स्कूल बंद थे। आज जब स्कूल खुला तो बच्चे अपना स्कूल भी नहीं पहचान पा रहे थे। कोरोना के कारण घर में रहकर क्या-क्या परेशानियां हुईं। मोबाइल से उन्होंने क्या…

error: Content is protected !!